Uncategorizedउत्तरप्रदेशजुर्मटेक न्यूज़देशराजनेतिक ख़बरें

लकड़कट्टे और वन विभाग ने मिलकर किया बड़ा कारनामा

सन्दना/सीतापुर

वन विभाग का बड़ा कारनामा पेड़ कटे गोपालपुर में जुर्माना काकोरी गांव के युवक पर

अंधेर नगरी चौपट राजा वाली कहावत आज सीतापुर जनपद के संदना थाना क्षेत्र में सही साबित हो रही है। जहां वन विभाग ने लकड़कट्टो संग मिलकर एक अनकहा कारनामा कर डाला। रातोरात लकडकट्टो ने वन विभाग की मिली भगत से बिना परमिट पांच आम के पेड़ों का कटान कर डाला, मामला तूल पड़ता देख वन विभाग ने जुर्माना कर देने बात तो कही लेकिन जिस युवक का नाम बताया वह व्यक्ति गांव में कही ढूढने से नही मिला।

जानकारी के अनुसार संदना थाना क्षेत्र के तेरवा गोपालपुर में रात के अंधेरे में बेखौफ लकडकट्टो ने वन विभाग की मिली भगत से बिना परमिट पांच हरे भरे पेड़ो(लकड़ी लगभग सौ कुंतल) का कटान कर डाला।ग्रामीणों ने मामले की सूचना क्षेत्रीय वन गार्ड अनिल व रेंजर मिश्रिख लईक अहमद को दी। जिस पर भी विभाग ने कागजी कोरम पूरा करते हुए पंद्रह हजार के जुर्माने की रसीद काटकर इति श्री तो कर ली। लेकिन इस जुर्माने में भी नया खेल वन विभाग की तरफ से खेला गया जिसमें पेड़ मालिक गोपालपुर तेरवा निवासी अन्नू व महेश के बजाय रामशंकर पुत्र लालचंद्र के नाम पंद्रह हजार की रशीद काट दी गयी।

जबकि ग्रामीणों का कहना है कि इस नाम का कोई भी व्यक्ति इस गांव में नही रहता है। अब यह बातें किस तरह इशारा कर रही है यह तो कह पाना मुश्किल है। आखिर वन विभाग ने किसको बचाने के लिए पंद्रह किलोमीटर दूर काकोरी निवासी रामशंकर पुत्र लालचंद पर जुर्माने की रशीद काट डाला। हाल फिलहाल लकडकट्टे रविवार रात के अंधेरे में लकड़ी ट्राली में भरकर गोपरामऊ गांव में लाकर खड़ी कर दी। जिसको सोमवार देर शाम अंधेरा शुरू होते ही पार कर दिया।

नियम:- खसरा खतौनी के आधार पर जमीन/बाग मालिक के नाम पर कार्यवाही होनी चाहिए 

हाल फिलहाल मामला तूल पकड़ता देख वन गार्ड ने खतौनी के आधार पर जुर्माना होने की बात कही, जब उनसे खतौनी व जुर्माने की रशीद माँगी गयी तो फोन काट दिया। फिलहाल वन विभाग ने लकड़कट्टे का नाम गुजरेहटा निवासी रामबहादुर बताया

मामले में क्षेत्राधिकारी मिश्रिख वन विभाग लईक अहमद से जब बात की गई तो बताया कि जुर्माना हो चुका है। जब उनसे बताया गया कि ग्रामीणों के अनुसार इस नाम का कोई व्यक्ति गांव में नही रहता तो उन्होंने बातों को घूमते हुए कहा कि विवेचना के दौरान सही कर लिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!